You are here
Home > Latest news > गुजरात चुनाव : दूसरे फेज़ की वोटिंग जारी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी डाला अपना वोट

गुजरात चुनाव : दूसरे फेज़ की वोटिंग जारी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी डाला अपना वोट

0Shares

गुजरात चुनाव के दूसरे और आखिरी फेज़ की वोटिंग भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच हो रही है । आज सुबह 7 बजे से ही लोग मतदान केन्द्रो के बाहर लम्बी – लम्बी लाईनो में लगकर अपने मतों का प्रयोग कर रहे है । आज सुबह प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी ने भी साबरमती के राणिप बूथ पर आम लोगो की ही तरह लाइन में खड़े होकर वोट डाला । आज सुबह – सुबह गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने मंदिर में पूजा पाठ करके वोट डाला ।

दूसरे फेज़ में 93 विधानसभा सीटों पे चुनाव हो रहा है । पिछले कई महीने से चल रहा गुजरात चुनाव का महासंग्राम आज चुनाव के साथ ही ख़त्म हो जायेगा । इस फेज़ में भी दोनों पार्टियों के कई दिग्गजों के भविष्य का फैसला होना है । इस फेज़ में उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल महेसाणा से, अल्पेश ठाकोर राधानपुर से तो दलित युवा नेता जिग्नेश मेवाणी वडगाम विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के सपोर्ट से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में तक़दीर आज़मा रहे है ।

ये गुजरात चुनाव आने वाले समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नवनिर्वाचित कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी, दोनों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है । यदि ये चुनाव भाजपा हार जाती है तो उसके लिए 2019 के लोकसभा चुनाव में मुश्किल होगी क्युकी बिपक्ष को एकजुट होने का मौका मिलेगा और विश्वास भी बढ़ेगा की नरेंद्र मोदी और अमित शाह को हराया जा सकता है । और विपक्ष गोलबंदी चालू कर देगा, और यदि भाजपा गुजरात चुनाव जीतने में कामयाब रहती है तो कांग्रेस के लिए 2019 का चुनाव बहुत मुश्किल हो जायेगा क्युकी गुजरात चुनाव में कांग्रेस में एक नयी किस्म का ऊर्जा दिख रही है और यदि कांग्रेस फिर भी हार जाती है तो राहुल गाँधी के नेतृत्व पर भी बड़ा प्रश्नचिन्ह लग जायेगा । और तब उस स्थिति में राहुल गाँधी के लिए पार्टी को एकजुट रख पाना आसान नहीं रह जायेगा और 2019 चुनाव में नरेंद्र मोदी के सामने उनका टिकना मुश्किल हो जायेगा ।

अभी तक जितने भी ओपेनियन पोल आ रहे है सबमे भाजपा सीटों में बढ़त बनाये हुए है । ABP & CSDS, इंडिया टुडे, और जितने भी ओपेनियन पोल आ रहे है सबमे भाजपा को सरकार बनाते हुए दिखाया जा रहा है । लेकिन कांग्रेस के सीटों में भी बढ़ोतरी हो रही ।

पिछले २२ सालो से गुजरात के सत्ता से बाहरी रही कांग्रेस का संगठनात्मक ढांचा पूरी तरह से ख़त्म हो गया है । बूथ लेवल पर कार्यकर्ताओ की कमी है । कांग्रेस पार्टी ये चुनाव हार्दिक पटेल के कंधो पर बैठकर लड़ रही है, क्युकी ये चुनाव बीजेपी बनाम कांग्रेस कम, मोदी – अमित शाह बनाम पाटीदार दिख रहा है । ये गुजरात चुनाव अमित शाह के बूथ मैनेजमेंट और हार्दिक पटेल के लोकप्रियता का भी चुनाव है ।

गुजरात में कांग्रेस के पास अपना तो कोई संगठनात्मक ढांचा नहीं है इसके लिए वो पूरी तरह से अल्पेश ठाकोर, हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवाणी के संगठनों पर निर्भर रहना मज़बूरी ही कही जा सकती है ।

18 दिसंबर को गुजरात और हिमांचल के नतीजे एक साथ आएंगे । तभी ये पता चल पायेगा की गुजरात का नया बॉस कौन होगा । तब तक सभी पार्टिया अपने अपने जीत का दावा करती रहेंगी । और आप भी सुनते रहिये ….

Top